Nanital News: मुक्तेश्वर के यशवंत की हत्या कर शव टांडा जंगल में फेंका

ख़बर शेयर करें

25 अगस्त को टांडा जंगल में सड़ी गली हालत में मिली युवक की लाश मुक्तेश्वर के यशवंत की गई हैं लाश की पहचान करने के बाद भाई ने यशवंत के तीन साथियों पर हत्याकर शव टांडा जंगल में फेंकने का आरोप लगाया।

बीते शुक्रवार सुबह पंतनगर थाना पुलिस को टांडा जंगल में एक लाश मिली थी। उसके शरीर पर चोट के निशान थे। पुलिस ने उसकी शिनाख्त के प्रयास किए, लेकिन सफलता नहीं मिली। सोमवार को ग्राम सतबूंगा मुक्तेश्वर नैनीताल निवासी कमल सिंह गौड़ पंतनगर थाने पहुंचे और मृतक की पहचान भाई यशवंत गौड़ पुत्र हरक सिंह के रूप में की। कमल ने बताया कि उसका भाई मुक्तेश्वर में मैकेनिक था। 17 अगस्त को यशवंत अपने दोस्त ग्राम लेडीबूंगा मुक्तेश्वर के गौरव बिष्ट व संजू बिष्ट पुत्र हेमंत सिंह बिष्ट और गांव के मुदित हर्ष गौड़ पुत्र हरीश गौड़ के साथ कार का काम कराने हल्द्वानी गया था।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand :आठ साल की बेटी को दी ऐसी यातनाएं, सुनकर खड़े हो जाएंगे रोंगटे; कत्ल की वजह भी बताई-देख -VIDEO

पुलिस के मुताबिक युवक की हत्या कर शव टांडा जंगल में फेंकने की पुष्टि हो गई है। भाई की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।
सूत्रों के मुताबिक पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल अभी तक पुलिस घटना का खुलासा नहीं की है बताया जा रहा कि पूरे मामले में पुलिस जल्द खुलासा कर सकती है सूत्रों के माने तो पुलिस अभी एक आरोपी को गिरफ्तार की है बाकी आरोपी को गिरफ्तार करने की प्रयास में जुटी हुई है.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand: 55 प्रत्याशियों का भविष्य EVM में कम मतदान सियासी दलों की बढ़ाई चिंता किसको होगा नफा, कौन झेलेगा नुकसान-खास रिपोर्टर

बताया जा रहा है कि मृतक का भाई उसको ढूंढ रहा था घर नहीं पहुंचने पर हल्द्वानी में तलाश की जिसके बाद पता चला कि उसके साथियों द्वारा उसके साथ मारपीट की गई जिसके बाद उसकी लाश मिली है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand Board: उत्तराखंड बोर्ड10th 12th रिजल्ट इस तारीख को होगा जारीऐसे चेक कर सकेंगे रिजल्ट

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें