उत्तराखंड-(बड़ी खबर) मेडिकल स्टोर में फार्मसिस्ट होना अनिवार्य, नहीं तो लाइसेंस होगा रद्द

ख़बर शेयर करें

मेडिकल स्टोर पर मेडिकल स्वामियों की मनमानी नहीं चलेगी उत्तराखंड में स्वास्थ्य विभाग ने बड़ा आदेश जारी किया है कि अब मेडिकल की दुकान में एक फार्मासिस्ट का होना जरूरी है, अगर ऐसा नहीं हुआ तो मेडिकल स्टोर का लाइसेंस रद्द किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने स्पष्ट कहा है कि केंद्र सरकार ने जो नियम बनाया है उसे राज्य में लागू करना सरकार की जिम्मेदारी है।

कई बार इस तरह की शिकायतें आई हैं मेडिकल स्टोर नशीली दवाइयां मिलती हैं या फिर गलत दवाइयां मिलती हैं लिहाजा अगर हर केमिस्ट की दुकान में फार्मेसिस्ट मौजूद होगा तो इस तरह की गलतियां नहीं होंगे लिहाजा राज्य सरकार इसे सख्ती से पालन करवाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी निवासी फौजी हिमांशु दफौटी का शव बरामद,गौला में नहाने से डूबने से हुई थी मौत


चारधाम यात्रा रूट पर तैनात होंगे मेडिकल कॉलेज के छात्र और फैकल्टी:स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने कहा है कि उत्तराखंड में चारधाम यात्रा में आने वाले यात्रियों को किसी तरह की कोई परेशानी ना हो. इसके लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अधिकारियों के साथ कई दौर की बैठक भी कर चुके हैं.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में फंदे पर लटका मिला प्रेमी की लाश, प्रेमिका समान और मोबाइल समान लेकर फरार

इस बार स्वास्थ्य विभाग चारधाम यात्रा में नया प्रयोग करने जा रहा है, जहां यात्रियों को मेडिकल सुविधा के लिए राजकीय मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों और फैकल्टी को चारधाम यात्रा में तैनात किया जाएगा

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी निवासी फौजी हिमांशु दफौटी का शव बरामद,गौला में नहाने से डूबने से हुई थी मौत

अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें