15 जून कैंची मंदिर मेला:मथुरा के 45 कारीगर बनाएंगे मालपुआ प्रसाद, बाबा के आशीर्वाद से बदल जाती है किस्मत-देखे-VIDEO

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी : Neem Karoli Baba विश्व प्रसिद्ध लाखों श्रद्धालुओं का आस्था का केंद्र कैंची धाम मंदिर बाबा नीम करोली महाराज का मेले की तैयारियां तेज हो गई है 15 जून को भव्य मेले का आयोजन होना है मेले की तैयारियों के लिए मंदिर कमेटी के साथ-साथ जिला प्रशासन भी जुड़ा हुआ है. मेले के दिन करीब डेढ़ लाख से अधिक श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद है ऐसे में श्रद्धालुओं के प्रसाद बनाने के लिए मथुरा से 45 कारीगर पहुंच रहे हैं जो बाबा के प्रसाद को तैयार करेंगे.

11 जून को मथुरा से प्रसाद बनाने वाले कारीगर बाबा के धाम पहुंचेंगे जहां पूरी स्वच्छता के साथ मालपुआ का प्रसाद तैयार करेंगे. मंदिर ट्रस्ट के प्रबंधक के मुताबिक बाबा के प्रसाद बनाने के लिए मथुरा के सोंख गांव के 45 कारीगर प्रसाद कर तैयार करेंगे उनके सहयोग के लिए मंदिर ट्रस्ट के 24 लोग उनका साथ देंगे . इसके अलावा पर्यावरण संरक्षण की सुरक्षा के दृष्टि को देखते हुए श्रद्धालुओं के प्रसाद देने के लिए दिल्ली से 35 कुंटल कागज की थैली मंगाया गया है इसके अलावा सब्जी देने के लिए 3 लाख गिलास भी मंगाए गए हैं .

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:सौरव राज ने अफसाना का गला घोटकर की थी हत्या पोस्टमार्टम से खुलासा, जाने लव स्टोरी की कहानी

मेले में बाबा के सेवा में लगने वाले लोग पहुंचना शुरू कर दिया है . करीब 2 लाख श्रद्धालु पहुंचेंगे उनके लिए प्रसाद के रूप में मालपुआ उपलब्ध कराने के लिए 35 कुंटल कागज की थैली दिल्ली से मंगाई गई है.
मंदिर कमेटी के अनुसार मेले में मिलने वाला प्रसाद मालपुआ बनाने का काम 12 जून से पूजा पाठ के साथ शुरू होगा और मेला समाप्त होने तक प्रसाद बनाने का काम चलेगा.


वही मेले में भारी संख्या में श्रद्धालुओं को आने की संभावना को देखते हुए जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने भी तैयारियां शुरू कर दी है डीएम नैनीताल अधिकारियों के साथ बैठक कर मेले की व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं साथ ही रूट प्लान और ट्रैफिक प्लान पुलिस ने तैयार कर लिया है

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:आबकारी विभाग की बड़ी कार्रवाई,भारी मात्रा में पकड़ी शराब, एक गिरफ्तार

जिससे कि बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं और पर्यटकों को मेले तक पहुंचने में किसी तरह का कोई दिक्कत ना हो.


गौरतलब है कि उत्तराखंड के नैनीताल जिले के भवाली स्थित कैंची धाम मंदिर बाबा नीम करोली का तपोस्थली विश्व विख्यात हैं . देश-विदेश के कई जाने-माने हस्तियां भी बाबा के भक्तों में शामिल है. बाबा नीम करोली महाराज की अद्भुत शक्तियां और चमत्कार कई लोगों के जीवन में बदलाव लाया है. यही वजह है कि हर साल बाबा के भक्तों में वृद्धि हो रही है. 15 जून को लगने वाले मेले में 2 लाख के करीब श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है.

बाबा के भक्त सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विदेश में भी हैं. विदेशी भक्तों में फेसबुक फाउंडर और एप्पल मोबाइल फोन कंपनी के संस्थापक शामिल हैं. यह लोग अपनी सफलता के पीछे नीम करोली बाबा (Neem Karoli Baba) का बड़ा योगदान मानते हैं. भारत में भी कई बड़ी हस्तियां बाबा के भक्तों की लिस्ट में शामिल हैं.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: CM योगी आदित्यनाथ कि शनिवार की रैली होगी ऐतिहासिक,बीजेपी प्रत्याशी अजय भट्ट जीतेंगे 5 लाख से अधिक मत: गोपाल रावत पूर्व मंत्री-देखे-VIDEO

मार्क जुकरबर्ग
 नीम करोली बाबा के कैंची धाम आश्रम में फेसबुक के फाउंडर मार्क जुकरबर्ग पहली बार 2007 में आए थे. मार्क जुकरबर्ग का मानते हैं कि यहीं पर आने के बाद से ही उन्होंने जीवन में ऊंचाईयों को हासिल किया था. मार्क जुकरबर्ग भी नीम करोली बाबा के भक्त हैं.

स्टीव जॉब्स
 एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स साल 1974 में कैंची धाम आश्रम आए थे. वह भारत में कैंची धाम आश्रम में ही रुके थे. यहां से जाने के बाद ही उन्होंने एप्पल कंपनी की शुरुआत की थी. ऐसा भी माना जाता है कि स्टीव जॉब्स की मौत के समय उनके तकिए के नीचे से नीम करोली बाबा की फोटो निकली थी.

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें