रानीखेत में पकड़ा गया आतंक का पर्याय तेंदुआ, वीडियो देख हो जाएंगे दंग-VIDEO

ख़बर शेयर करें

रानीखेत: रानीखेत के दैना गांव में आतंक का पर्याय बने तेंदुए को वन विभाग ने पिजरे में कैद किया है । बताया जा रहा कि पकड़ा गया तेंदुआ बुजुर्ग को मौत के घाट उतारने वाला तेंदुआ है। जानकारी के मुताबिक दैना गांव में आतंक का पर्याय बने तेंदुआ रविवार शाम को वन विभाग के पिंजरे में कैद हुआ है तेंदुए के पकड़े जाने के बाद से ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है वन विभाग केंद्रों को पकड़कर अल्मोड़ा रेस्क्यू सेंटर ले गई है।

ग्रामीणों के मुताबिक तेंदुआ कई गांवों के लिए आतंक का पर्याय बना हुआ था जहां कई मवेशियों को भी अपना निवाला बना चुका था। तेंदुआ के पकड़े जाने के बाद से गांव में भय का माहौल बना हुआ था। देर शाम वन विभाग की टीम तेंदुए को रेस्क्यू कर अल्मोड़ा ले गई। बताया जा रहा है कि 29 नवंबर को गांव के जंगल में मवेशी चरा रहे एक बुजुर्ग मोहन राम को तेंदुए ने मौत के घाट उतार दिया था और तेंदुआ बुजुर्ग के शरीर के आधे हिस्से को खा चुका था जिसके बाद से लोग तेंदुए की पकड़ने की मांग उठा रहे थे जिसके बाद वन विभाग तेंदुआ की पकड़ने के लिए कई पिंजरे लगाए थे । तेंदुआ पकड़े जाने के बाद से ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है। ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में कई और तेंदुआ है जिससे लोगों में दहशत का माहौल है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: बीजेपी ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, जानें- उत्तराखंड में किसे कहां से मिला टिकट,


वही अल्मोड़ा जनपद के मरचूला क्षेत्र क्षेत्र में बीते दिनों बाघ ने महिला को अपना निवाला बना लिया था जिसके बाद से मर्चुला क्षेत्र के लोग दहशत में हैं ।
ग्रामीणों के मुताबिक महिला को मौत के घाट उतारने के बाद बाघ की क्षेत्र में सक्रियता बनी हुई है। वन विभाग के कर्मी गश्त में जुटे हुए हैं। ग्रामीणों ने जल्द से जल्द बाघ को पकड़ने की मांग की है वहीं वन विभाग पिंजरा लगाकर बाघ को पकड़ने के प्रयास में जुटा हुआ है।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें