स्कूटी के VIP नंबर के लिए शख्स ने लगाई 1 करोड़ 12 लाख की बोली, जानिए क्या है पूरा मामला

ख़बर शेयर करें

हिमाचल प्रदेश में इन दिनों वीआईपी नंबर (फैंसी नंबर) का मुद्दा चर्चा का विषय बना हुआ है। सोशल मीडिया से लेकर मीडिया तक पर इस नंबर और इसकी कीमत की चर्चा हो रही है। दरअसल, यह वीआईपी नंबर एचपी 99-9999 एक स्कूटी के लिए खरीदा गया है और सबसे ज्यादा खास बात यह है कि खरीददार ने इस नंबर की बोली 01 करोड़ 12 लाख 15 हजार 500 रुपये की लगाई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दोपहिया वाहनों के वीआईपी नंबर के लिए कोटखाई के वाहन पंजीकरण कार्यालय की तरफ से गुरुवार को ऑनलाइन बिड मंगाई गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  जमरानी बांध: 48 साल पहले हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री के सी पंत ने किया था शिलान्यास,मोदी सरकार में 3808 करोड़ से शुरू होने जा रहा है काम

ऑनलाइन बिड में 26 लोगों ने आवेदन किया था। ऑनलाइन नीलामी में परिवहन विभाग की ओर से HP99-9999 नंबर की मूल कीमत महज 1,000 रुपये तय की गई थी। दो दिनों तक चली इस बोली में यह नंबर एक करोड़ से ज्यादा रुपये में बिक गया ।

बोली लगाने वाला नहीं आया पैसा जमा करने

फैंसी नंबर की बोली का मामला अब गर्माता जा रहा है मामले में बोलीदाता ने ऑक्शन के दौरान खरीदा नंबर नहीं लिया तो उसकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं. हिमाचल विभाग के निदेशक को आदेश दिए हैं कि यदि बोलीदाता नंबर लेने से इंकार करता है तो उसके खिलाफ सरकारी सिस्टम के दुरुउपोग में केस दर्ज किया जाए. उन्होंने विभाग को निर्देश दिए हैं कि पहले एसडीएम को जांच सौंपी जाए, फिर मामला पुलिस के पास जाएगा बताया जा रहा कि सोमवार को बोरी दाता को पैसे जमा करना था लेकिन उसने जमा नहीं किया।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: अच्छी खबर धामी सरकार साल में तीन गैस सिलिंडर देगी मुफ्त, सस्ती दरों पर मिलेगा नमक,इनको मिलेगा लाभ

अगले बोलीदाता को दिया समय:

अगले बोलीदाता एक करोड़ 11 हजार वाले हैं उन्हें तीन दिन का समय मिलेगा यदि वे भी क्विट कर जाते हैं तो फिर एक करोड़ पांच सौ रुपए बोली लगाने वाले को भी तीन दिन का समय मिलेगायदि कोई सामने नहीं आया तो इस फैंसी नंबर की ऑक्शन कैंसिल कर नए सिरे से बोली लगाई जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: यूट्यूबर को टेडी बियर का मास्क लगाकर रील बनाना बड़ा भारी,पंहुचा हवालात,जाने पुरा मामला

अचानक से ये मामला पूरे देश में सुर्खियों में आ गया जब एक बोलीदाता ने एक करोड़ रुपए से अधिक का दाम लगा दिया. बाद में एक करोड़ रुपए से अधिक का दाम लगाने वाले कुल तीन बोलीदाता हो गए मीडिया में सुर्खियां बटोरने के बाद जब प्रदेश सरकार को ये खबर मिली तो सरकार के भी कान खड़े हुए।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें