Uttarakhand News:सीएम पुष्कर सिंह धामी ने आजाद हिंद फौज के शहीद मेजर दुर्गा मल्ल को दी श्रद्धांजलि,

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को गढ़ी कैंट स्थित शहीद दुर्गा मल्ल पार्क में आजाद हिंद फौज के शहीद मेजर दुर्गा मल्ल की प्रतिमा और चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी. इस अवसर पर सीएम धामी ने अलग-अलग क्षेत्रों में सराहनीय काम करने वाले गोरखा समुदाय के लोगों को सम्मानित भी किया.


सीएम ने कहा कि उत्तराखण्ड देवभूमि और वीरों की भूमि है, बलिदानियों की भूमि है हमारे सैनिकों ने आज तक हुए सभी युद्धों में सिद्ध भी की है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से सेना न केवल पहले से और अधिक सक्षम-सशक्त हो रही है बल्कि उसकी यश और कीर्ति पताका चारों ओर फहरा रही है.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:महिला के गले से चेन छीनकर चलती ट्रेन से कूदा चोर, अंधेरे का फायदा उठाकर भागा

सीएम धामी ने कहा कि अल्प आयु में ही मेजर दुर्गा मल्ल ने देश की रक्षा के लिए अपने सभी सुख, सुविधाओं को त्याग कर अंग्रेजों के खिलाफ लड़ने का जो दृढ़ साहस दिखाया था, उसे हमेशा याद किया जाएगा. उन्होंने विपरीत परिस्थितियों में भी राष्ट्र प्रथम की भावना से प्रेरित होकर अपना सर्वस्व देश को अर्पण कर दिया. 1931 में दुर्गा मल्ल गोरखा राइफल्स में भर्ती हुए और यहीं से उन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध में भी हिस्सा लिया.

यह भी पढ़ें 👉  करंट लगने से लाइनमैन की दर्दनाक मौत


1942 में वे नेताजी सुभाष चंद्र बोस के आह्वान पर आजाद हिंद फौज में भर्ती हो गए. 27 मार्च 1944 में अंग्रेज सैनिकों की ओर से दुर्गा मल्ल को युद्धबंदी बना लिया गया और सैनिक अदालत की तरफ से उन्हें फांसी पर चढ़ाने का हुक्म दिया गया. 25 अगस्त 1944 को दिल्ली की तिहाड़ जेल में स्वाधीनता के इस दीवाने ने हंसते-हंसते फांसी का फंदा अपने गले में स्वीकार किया.

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़, एक को लगी गोली, दूसरा फरार-देखे-VIDEO

अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें