उमेश पाल और गनर हत्याकांड वीडियो आया सामने, CCTV में दिखे गोली-बम बरसाने वाले शूटर्स- देखे LIVE –VIDEO

ख़बर शेयर करें

शुक्रवार की शाम बेलगाम अपराधियों ने उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में हुई समाजवादी पार्टी (सपा) विधायक राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह की हत्या कर दी। इस घटना से जुड़ा सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है.
उत्तर प्रदेश का प्रयागराज शुक्रवार को पूर्व विधायक राजू पाल की हत्या मामले के गवाह उमेश पाल की दिनदहाड़े हत्या से दहल गया।

6 शूटरों ने 47 सेकेंड तक उमेश पाल पर गोलियां बरसाईं और कई बम भी पटके। इस सनसनीखेज वारदात ने 18 साल पहले तत्कालीन विधायक राजू पाल की हत्या की खौफनाक यादों को ताजा कर दिया। उमेश राजू पाल के बालसखा और रिश्तेदार थे। वह उनकी हत्या मामले में गवाह भी थे, जिसके कारण माफिया अतीक अहमद गैंग उसे अपना दुश्मन नंबर एक समझता था।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: काठगोदाम में बीच सड़क में ट्रक में लगी भीषण आग, ट्रक जलकर हुआ खाक-देखे-VIDEO

इसी वजह से शुक्रवार को जब एसआरएन अस्पताल में गंभीर रूप से जख्मी उमेश पाल को ले जाया गया, तब उनके घरवाले चीखते हुए कहते रहे कि प्रशासन सोता रहा और अतीक ने उमेश को मरवा दिया।

दुस्साहसिक अंदाज में सड़क पर हुई वारदात से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस के साथ ही उमेश पाल के करीबी भी पहले घटनास्थल और फिर अस्पताल की तरफ भागने लगे। मौके पर खून देख लोग दहशत से भर गए और उनके पैरों के नीचे कांच के टुकड़े वारदात की भयावहता की कहानी बयां करने के लिए काफी थे। कुछ ही देर में तेज आवाज में गली से चीख-पुकार सुनाई देने लगी तो लोग भीतर की ओर दौड़ पड़े।

यह भी पढ़ें 👉  गर्मी ने बनाया रिकॉर्ड: हल्द्वानी,देहरादून में 14 साल बाद टूटा तापमान का रिकॉर्ड बाजारों में सन्नाटा; देखिए कितना पहुंचा तापमान

राजू पाल हत्याकांड के चश्मदीद उमेश पाल व उनके गनर की हत्या की वारदात 50 से भी कम सेकंड में हत्यारों ने अंजाम दी और भाग निकले। यह पूरी घटना किस तरह से छह हमलावरों ने मिलकर अंजाम दी यह सब सीसीटीवी में दर्ज है। यह पूरी वारदात जिस तरह से अंजाम दी गई उसे देखकर यही लगता है यह घटना सुनियोजित थी। हैरान करने वाली बात है कि एक बदमाश तो सिर्फ बम फेंकने के लिए आया था।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: पुलिस के सामने भिड़ीं सास-बहू, जीजा-साले में जमकर हुआ जूतमपैजार-जाने फिर क्या हुआ

सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि हमलावर छह थे जिनमें से दो बाइक, दो कार जबकि, शेष दो अन्य किसी वाहन से आए थे। इनमें से बाइक सवार आगे-आगे चल रहे थे, जबकि ठीक पीछे कार में उनके दो साथी थे।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें