हल्द्वानी हिंसा में नुकसान की भरपाई के लिए अब्दुल मलिक की संपत्ति होगी जप्त,तहसील ने किया नोटिस तमिल

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी; 8 फरवरी को हल्द्वानी के बनभूलपुरा थाना क्षेत्र में हिंसा मैं जहां भारी संख्या में पुलिस फोर्स और सरकारी कर्मचारी घायल हुए थे तो वही सरकारी संपत्ति को भी भारी नुकसान पहुंचा था हल्द्वानी नगर निगम को इस हिंसा में 2 करोड़ 68 लाख का सबसे ज्यादा नुकसान हुआ था ऐसे में हल्द्वानी नगर निगम ने हिंसा के मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक से नुकसान की भरपाई के लिए नोटिस और आरसी की कार्रवाई की थी जिसके बाद हल्द्वानी तहसील प्रशासन ने अब्दुल मलिक के खिलाफ नोटिस जारी कर नुकसान की भरपाई के लिए कार्रवाई की थी।

लेकिन तय समय में अब्दुल मलिक ने नुकसान की भरपाई नहीं की जिसके बाद तहसील प्रशासन ने नुकसान की भरपाई के लिए उसकी संपत्ति की तलाश करनी शुरू की जहाँ नैनीताल तहसील क्षेत्र अंतर्गत अब्दुल मलिक की जमीन पाई गई है

यह भी पढ़ें 👉  करंट लगने से लाइनमैन की दर्दनाक मौत


ऐसे में नैनीताल तहसील प्रशासन ने अब्दुल मलिक से वसूली की कार्रवाई शुरू कर दी है.
तहसील प्रशासन ने नैनीताल जेल में बंद अब्दुल मलिक को वसूली के संबंध में नोटिस भेजा है.
गौरतलब हैआठ फरवरी को बनभूलपुरा में अतिक्रमण हटाने गई नगर निगम, पुलिस, प्रशासन की टीम पर हमला हुआ था. इसमें नगर निगम की संपत्ति को उपद्रवियों ने काफी नुकसान पहुंचाया था.इसके बाद नगर निगम ने हिंसा के मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक को 2 करोड़ 68 लाख के नुकसान का नोटिस भेजा था हल्द्वानी तहसील के माध्यम से मलिक से वसूली संबंधी कार्रवाई आगे बढ़ी.

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़, एक को लगी गोली, दूसरा फरार-देखे-VIDEO


इसके बाद जिले में अन्य स्थानों पर मलिक की संपत्ति को खोजने का काम शुरू किया गया इसमें नैनीताल तहसील के अंतर्गत भीमताल के सांगुड़ी गांव में मलिक की आठ नाली से अधिक भूमि होने का पता चला.
तहसीलदार नैनीताल मनीषा मरकाना ने बताया कि अब्दुल मलिक से वसूली अब नैनीताल तहसील के माध्यम से हो रही है.

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़, एक को लगी गोली, दूसरा फरार-देखे-VIDEO


जिसके नैनीताल जेल में बंद अब्दुल मलिक को नोटिस तमिल कराई अगर अब्दुल मलिक 2 करोड़ 68 लख रुपए का नुकसान की भरपाई नहीं करता है तो उसकी जमीन की नीलामी की कार्रवाई की जाएगी.
गौरतलाब है की अब्दुल मलिक उसकी पत्नी साफियाऔर उसका बेटा भी इन दिनों जेल में बंद है।

वही बनभूलपुरा स्थित नजूल भूमि पर कब्जा कर खुर्द बुर्द कर स्टांप पेपर में बेचने और मृत व्यक्तियों के नाम से फर्जीवाड़ा करने की आरोपी साफिया मलिक भी जेल में जमानत अर्जी को कोर्ट ने खारिज कर दिया है.

अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें