हल्द्वानी: परिवहन विभाग और टैक्सी यूनियन की बैठक के बाद हड़ताल खत्म,यात्रियों को मिली राहत

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी: कुमाऊं मंडल के टैक्सी चालक यूनियन के बैनर तले अपने विभिन्न मांगों को लेकर 27 जनवरी से हड़ताल पर चले गए थे टैक्सी मालिक व चालकों के हड़ताल पर चले जाने से पहाड़ की लाइफ लाइन कहे जाने वाली टैक्सियों के पहिए थम गए थे. टैक्सियों की हड़ताल के चलते पहाड़ जाने वाली यात्रियों को सबसे ज्यादा मुसीबत उठानी पड़ रही थी ऐसे में परिवहन विभाग और टैक्सी यूनियन के बीच सोमवार को हल्द्वानी के सर्किट हाउस में बैठक हुई जहां मामले का निस्तारण के बाद टैक्सी यूनियन ने अपनी हड़ताल को वापस ले लिया है.

प्राइवेट फिटनेस सेंटर को लेकर टैक्सी यूनियन हड़ताल पर चले गए थे टैक्सी यूनियन के पदाधिकारी ने प्राइवेट फिटनेस सेंटर पर फिटनेस करने के नाम पर मनमानी पैसे वसूल का आरोप लगाते हुए हड़ताल पर चले गए थे इसके बाद पूरे मामले में परिवहन विभाग ने संज्ञान लेते हुए टैक्सी यूनियन के साथ बैठकर मामले को निस्तारण किया है. संभागीय परिवहन अधिकारी संदीप सैनी का कहना है कि टैक्सी यूनियन के साथ बैठक कर मामले का निस्तारण किया गया है साथी प्राइवेट सेंटर संचालक को भी कहा गया है कि किसी भी तरह का कोई दबाव बनाकर फिटनेस के नाम पर गाड़ी मालिकों से फीस से अधिक रकम नहीं की जाए उन्होंने कहा कि अगर शिकायत आती है तो फिटनेस सेंटर के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी.साथ ही गाड़ी मालिकों से अपील की गई है कि सरकार द्वारा जो निर्धारित सरकारी शुल्क है वही फिटनेस सेंटर को जमा कारण.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand:सीएम योगी के साथ लुक में नजर आए 'छोटे योगी'देखे-VIDEO


गौर हैं की टैक्सी चालकों के हड़ताल पर चले जाने से पहाड़ को जाने वाली यात्रियों को काफी फजीहत उठाना पड़ रहा था परिवहन विभाग ने पहल करते हुए करते हुए टैक्सी यूनियन से वार्ता कर हड़ताल को खत्म कराया है.

यह भी पढ़ें 👉  मेरी औकात ये है…कहते हुए दामाद ने ससुर को गोली मार की हत्या, पत्नी को विदा नहीं करने से था नाराज, देखें दिनदहाड़े हत्या का LIVE-VIDEO

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें