हल्द्वानी: सावधान ,ऑनलाइन 12 लाख की ठगी, ठगों ने ऐसे लगाया चुना

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी: साइबर ठग लोगों के साथ धोखाधड़ी करने के लिए नए-नए तरीके इजाद कर रहे हैं. हल्द्वानी में एनी डेस्क के जरिये ठगी का एक ठगी का मामला सामने आया है जहां 12 लाख से अधिक की ठगी हुई है पूरे मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर साइबर सेल को भेजा है.


शहर के जेल रोड निवासी दंपति के खातों से करीब 12 लाख की रकम निकाली गई है.इस मामले में कोतवाली पुलिस ने सात माह बाद रिपोर्ट दर्ज की है.
जेल रोड निवासी व्यक्ति ने पुलिस में तहरीर देते हुए कहा है कि नवंबर 2022 में उन्होंने एक टीवी चैनल का ऐप डाउनलोड किया था इसके लिए उनकी एक व्यक्ति से फोन पर बात हुई उसने एनी डेस्क डाउनलोड करने के लिए कहा ऐप डाउनलोड करते हैं उसके खाते से 3.13 लाख और पत्नी के खाते से चार लाख रुपये निकलने का मैसेज आ गया.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:सौरव राज ने अफसाना का गला घोटकर की थी हत्या पोस्टमार्टम से खुलासा, जाने लव स्टोरी की कहानी

जहां पुलिस को शिकायत दर्ज कराई थी. लेकिन कुछ दिन बाद बैंक जाने पर पता चला की उनके खाते से दो बार में 8.13 लार और पत्नी के खाते से चार लाख रुपये निकाले गए हैं इस तरह कुल 12.13 लाख रुपये निकाले गए हैं. पूरे मामले में कोतवाली पुलिस ने अज्ञात ठगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है पुलिस का कहना है कि मामले को साइबर सेल को हस्तांतरित किया गया है.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: CM योगी आदित्यनाथ कि शनिवार की रैली होगी ऐतिहासिक,बीजेपी प्रत्याशी अजय भट्ट जीतेंगे 5 लाख से अधिक मत: गोपाल रावत पूर्व मंत्री-देखे-VIDEO


एक अन्य मामले में ऑनलाइन स्कूटी बेचने के नाम पर ठगों ने चोरगलिया निवासी त्रिलोचन सुयाल से 25 हजार की ठगी की है. पीड़ित ने साइबर सेल में तहरीर देते हुए कहा है कि सोशल मीडिया में एक विज्ञापन देखा जहाँ 2022 मॉडल की स्कूटी 25 हजार रुपये में मिलने की बात लिखी थी जिस व्यक्ति ने यह विज्ञापन डाला था उसने अपना नाम आर्मी का जवान बताते हुए अपना नाम एमएस चौहान बताया था जब उसके दिए गए फोन नंबर पर बात किया तो उसने खुद को हल्द्वानी स्थित आर्मी कैंट में तैनात बताया जहां आर्मी के वर्दी के साथ उसने अपनी फोटो भी लगाई थी.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:आबकारी विभाग की बड़ी कार्रवाई,भारी मात्रा में पकड़ी शराब, एक गिरफ्तार


भरोसे में आकर उन्होंने 23 हजार रुपये ऑन लाइन ट्रांसफर कर दिए इसके बाद न तो स्कूटी मिली और न ही पैसा . दोनों मामले में साइबर सेल ने जांच शुरू कर दी है.

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें