(गजब)हल्द्वानी: दुल्हन बरात का करती रही इंतजार ,दूल्हे के परिवार वाले बोले भूल गए शादी के तारीख

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी के बनभूलपुरा थाना क्षेत्र अंतर्गत एक ऐसा मामला सामने आया है जहां दहेज के लालची बरात लेकर नहीं आए। बरेली रोड उजाला नगर निवासी एक युवक ने पुलिस में तहरीर देते हुए कहा है कि 1 मार्च को उसकी बहन की बारात आनी थी बरात पूछने पर दूल्हे के पिता ने बताया कि बरात की तारीख भूल गए हैं अब बरात 10 मार्च को लाएंगे इससे पहले दहेज में स्विफ्ट डिजायर कार देनी होगी।

बरेली रोड निवासी एक युवक ने पुलिस में तहरीर देते हुए कहा है कि बड़ी बहन की उम्र लगभग 26 वर्ष का बिचोलिया इस्लाम के माध्यम से समीर पुत्र नसीर अहमद निवासी देवराड़ा थराली, थाना थराली जिला चमोली के साथ बमुकाम वनभुलपरा हल्द्वानी में रिश्ते की बात माह अगस्त 2022 को हुयी थी, तथा दिनांक 22/08/ 2022 को सगाई का दिन वनभूलपुरा में मुकर्रर किया गया था, तथा सगाई में नसीर अहमद व उसकी पत्नी गुडिया व पुत्र समीर तथा छोटा पुत्र आरीश तथा पुत्री सेहरीन ( शादी-शुदा ) व अन्य कई लोग तथा प्रार्थी के परिवार के सदस्यगण व बहन के सम्मुख सगाई की समस्त रस्में अदा की गई, तथा इन लोगों के आवभगत में लगभग 65,000/- रूपये का खाने व समान आदि

जिनमें 8 जोड़ी कपड़े लड़के के व साथ इनके परिवार के सदस्यों के 4 जोड़े कपड़े तथा कुल मिलाकर 12 जोड़े तथा 1 सोने की अंगूठी तथा 1 जोड़े जूते व नकद धनराशि समीर को दी गयी. तथा इनके ओर से भी कुछ सामान कपड़े आदि व मेकप के आदि दी गयी थी, तथा सगाई के समय यह तय हुआ था कि विवाह कि तिथि 1 मार्च 2023 नियत की जाये, तथा दोनों पक्षों सहमति से विवाह की तिथि 1 मार्च 2023 हल्द्वानी के लिए मुकर्रर कर दी गयी थी, तथा सगाई की रस्म की कुछ फोटो संलग्न की जा रही है। इसके पश्चात बराबर फोन पर बात होती रही तथा प्रार्थी ने अपनी बहन के विवाह के लिए शादी के कार्ड भी छपवा लिए थे, तथा एक बैंकट बरेली रोड, हल्द्वानी में बुकिंग के लिए एडवांस 1,00000/- रूपये की धनराशि माह दिसम्बर 2022 में 1 मार्च 2023 के विवाह के लिए अदा कर दी गयी थी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:गेस्ट हाउस की आड़ में चल रहा था सैक्स रैकेट, जिस्मफिरोशी में लिप्त 8 महिलाओं सहित 19 गिरफ्तार

शादी के काडो के मध्य प्रार्थी द्वारा 750 काडो के मध्य लगभग 4,000/- रूपये भी अदा करने के पश्चात कार्ड छपवा लिये थे, कार्ड की प्रति संलग्न है, एवं भेंट स्वरूप विवाह के समय फर्नीचर जिसमें टेबल, सोफा, पलंग, गद्दे आदि सामान के लिए प्रार्थी द्वारा 1,60,000/- रूपये देकर उक्त फर्नीचर इस्पेशल ऑर्डर पर बनवाया गया था। तथा इसके अलावा लगभग 39,000/- रूपये का इलेक्ट्रोनिक सामान व वर्तन कीमत लगभग 17,745/- रूपये विवाह हेतू भेंट स्वरूप देने के लिए खरीदा गया था। तथा बैंकट होल में दिनांक 1 मार्च 2023 विवाह हेतू बरातियों की आवाभगत आदि के लिए खाने से सम्बन्धित सामान के लिए कारिगर आदि के लिए प्रार्थी द्वारा एडवांड धनराशि 55,000/- रूपये अदा कर दी गयी थी, तथा खाना बनाने वाले को अलग से खाना बनाने के लिए 15,000/- रूपये दे दिये गये थे, तथा प्रार्थी द्वारा सम्पूर्ण तैयारियों के लिए लगभग 3,86,745/- रूपये की धनराशि बतौर एडवांस व सामान हेतू दिये जाने के बावजूद शादी का स्थान हल्द्वानी व दिनांक 1 मार्च 2023 मुकर्रर होने पर इनके द्वारा 10 मार्च 2023 को प्रार्थी के निवास पर लड़के के पिता नसीर अहमद व माता गुड़िया द्वारा बिरादरी की टके की रस्म की अदायगी के समय इनके द्वारा 100 बरातियों के स्थान 150 बराती लाने की बात कहीं गयी,

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:विजिलेंस की कार्रवाई, खंड शिक्षा अधिकारी को 10 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

तथा इनके द्वारा नई गाड़ी स्विफ्ट डिजायर की मांग की गयी। प्रार्थी द्वारा गाड़ी देने में असमर्थता व्यक्त करने पर इनकी बुआ द्वारा नई वेगनार जो माह नवम्बर 2022 में किस्तों में ली गयी थी. उसकी आगे की सारी किस्ते प्रार्थी पर आगे के देने का दबाव डाला था, उस बावक्त प्रार्थी के पुनः मना करने पर नसीर अहमद तथा उसकी पत्नी गुड़िया द्वारा घर वापस पहुँचने पर मोबाईल के माध्यम से आगे के कार्यक्रम बावक्त बताने के लिए कहकर इसके द्वारा वापस जाने के पश्चात लगभग 7 दिन बाद इन्होंने संयुक्त रूप से एक षड़यंत्र कर अपने लड़के समीर का इनकी अनुचित दहेज की मांग न माने जाने पर प्रार्थी की बहन से विवाह करने के लिए इनकार कर दिया तथा

दिनांक 31/01/2023 को नसीर अहमद व उसका लड़का आरीश व इनके साथ के व्यक्तियों द्वारा स्पष्ट रूप से पुत्र समीर का विवाह करने से इनकार किये जाने पर कुछ सामान का आदान-प्रदान किये जाने व शेष सामान इनके द्वारा देने का अश्वासन व प्रार्थी द्वारा लगभग 3,86,745/- रूपये की धनराशि खर्च किये जाने के लिए बावक्त बताये जाने के बावजूद भी झूठा अश्वासन लिया तथा पूर्व में इनके द्वारा लिया गया काफी सामान भी इनके कब्जे में है। उपरोक्त समीर उसके पिता नसीर अहमद उसकी माता गुड़िया उसकी बड़ी बहन सेहरीन (शादी शुदा) छोटा भाई आरीश निवासी देवराड़ा थराली, थाना थराली, जिला चमोली ने एक षड़यंत्र कर प्रार्थी की बहन का भविष्य अंधकार में कर एक कुटरचना कर छलकर तथा रिष्टि कर सम्भाव्य रूप से जानबूझकर इरादतन छल के प्रयोजन से कूटरचना कर व अपराधिक न्यास भंग कर ख्याति को अपहानि पहुँचाने के उद्देश्य से कुटरचना एवं प्रार्थी व उसके परिवार के सदस्य की मानहानि की तथा प्रार्थी की बहन के जीवन व भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:विजिलेंस की कार्रवाई, खंड शिक्षा अधिकारी को 10 हजार की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

, तथा प्रार्थी को सामाजिक व आर्थिक रूप से क्षति पहुँचायी है, तथा इन लोगों द्वारा पूर्व में समस्त रस्मों को अदा किये जाने के बावजूद इन लोगों द्वारा घोखाधड़ी कर और दहेज की अनुचित मांग की गयी है तथा इन लोगों द्वारा पूर्व में किये गये षडयंत्र फलस्वरूप अपने पुत्र समीर का रिश्ता लगभग 4 बार तोड़ा गया है पूरे मामले को पुलिस मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें