सफेद हाथी हुई ट्रैफिक लाइटे पैसे का दुरुपयोग

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी: सरकारी बजट को कैसे हटाया जाए इसकी वानगी हल्द्वानी मैं देखने को मिला है। जहां मुख्यमंत्री घोषणा के तहत पिछले साल शहर की यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए जगह जगह पर ट्रैफिक लाइट लगाई जानी थी जिसके लिए 6 महीने पहले सरकार ने एक करोड़ 20 लाख की बजट भी जारी किया जिसके बाद शहर में 13 जगहों पर यातायात सुचारू करने ट्रैफिक लाइट लगाई गई थी। लेकिन यह ट्रैफिक लाइट अब सफेद हाथी साबित हो रही हैं पुलिस प्रशासन बार बार इनके ट्रायल की बात तो कहता है लेकिन अब तक हालात जस के तस हैं। क्योंकि इन ट्रैफिक लाइटों को ऐसी जगह लगा दिया गया जहां इनका कोई इस्तेमाल ही नहीं हो सकता क्योंकि अधिकतर जगह सड़क में लेफ्ट टर्न नहीं है या सड़कें छोटी है। ये ट्रैफिक लाइट उन जगहों पर जरूरत नहीं है अब सड़कों पर शोपीस बनकर रह गई है। और हल्द्वानी शहर में जाम के हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं आये दिन स्थानीय लोगों के साथ ही पर्यटकों को भी जाम से जूझना पड़ रहा है। ट्रैफिक लाइट में करोड़ों का बजट तो खर्च कर दिया गया लेकिन उसका इस्तेमाल नही हो पा रहा है, जिसका खामियाजा दूरदराज से आने वाले पर्यटकों को जाम में फंसकर भुगतना पड़ रहा है वहीं एसपी ट्रैफिक देवेंद्र पिंचा का कहना है कि लाइटों का ट्रायल कर लिया गया है और जल्द ही सभी ट्रैफिक लाइटों को शुरू कर शहर को जाम से निजात दिलाई जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand(बड़ी खबर) राज्य के सभी डिग्री कॉलेजों में एडमिशन लेने वाले छात्रोंके लिए खबर, आई बड़ी UPDATE

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें