प्रधानमंत्री सर्वोदय योजना क्या है? जाने किसे ले सकते है लाभ

ख़बर शेयर करें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ की घोषणा की है।पीएम सूर्योदय योजना’ को सफल बनाने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से बहुत बड़ा अभियान शुरू किया जाएगा। यह अभियान कुछ उसी तरह का होगा जैसे पूर्व में हर घर को बिजली कनेक्शन से जोड़ने के लिए सौभाग्य योजना की शुरुआत हुई थी। इसके अन्‍तर्गत एक करोड़ परिवारों को छत पर सौर प्रणाली उपलब्‍ध कराई जायेगी। एक सोशल मीडिया पोस्ट में श्री मोदी ने कहा कि देश के लोगों के पास अपनी छत पर सौर प्रणाली होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि इससे न केवल गरीबों और मध्यम वर्ग का बिजली बिल कम होगा, बल्कि भारत ऊर्जा क्षेत्र में आत्मनिर्भर भी बनेगा।
इसकी बड़ी वजह यह है कि वर्ष, 2014 में आवासीय घरों की छत पर सोलर पैनल लगाकर बिजली बनाने की जो योजना लांच की गई थी वह बहुत सफल नहीं रही। इस योजना के तहत वर्ष 2022 तक देश में 40 हजार मेगावाट बिजली बनाने का लक्ष्य रखा गया था, लेकिन सरकार के ही आंकड़े बताते हैं कि दिसंबर, 2023 तक सिर्फ 11 हजार मेगावाट से कुछ ज्यादा बिजली बनाने की क्षमता लगाई गई है। इस गति को भांपते हुए निर्धारित वर्ष को बढ़ाकर 2026 कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: यूट्यूबर को टेडी बियर का मास्क लगाकर रील बनाना बड़ा भारी,पंहुचा हवालात,जाने पुरा मामला

22 जनवरी को किया एलान
22 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘पीएम सूर्योदय योजना’ का एलान किया था। योजना के तहत एक करोड़ घरों की छतों पर सोलर पैनल लगाने का लक्ष्य रखा गया है। पीएम ने कहा है कि इससे न केवल आम लोगों का बिजली बिल कम होगा बल्कि देश भी बिजली आपूर्ति के मामले में आत्मनिर्भर होगा।
सब्सिडी की राशि बढ़ाई जाएगी ताकि ज्यादा लोग इसे लगाने को लेकर उत्साहित हों। अभी जो योजना है उसके मुताबिक छत पर सोलर पैनल लगाकर तीन किलोवाट तक बिजली बनाने के लिए आवश्यक उपकरणों की खरीद में 40 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जाती है जबकि तीन किलोवाट से 10 किलोवाट तक के बिजली उत्पादन के लिए 20 प्रतिशत अनुदान सरकार देती है। यह योजना स्थानीय बिजली वितरण कंपनियों द्वारा संचालित होती है।

यह भी पढ़ें 👉  जमरानी बांध: 48 साल पहले हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री के सी पंत ने किया था शिलान्यास,मोदी सरकार में 3808 करोड़ से शुरू होने जा रहा है काम

इच्छुक लाभार्थी को सबसे पहले संबंधित राज्य इलेक्ट्रिक रेगुलेटरी कमीशन के आदेश लेना होगा. इसके बाद उनसे निर्धारित कैपेसिटी लिमिट के भीतर डिस्कॉम से आवश्यक अनुमोदन लेना होगा. इसके बाद आप अपने छत पर इस सुविधा का आनंद ले सकते हैं.

कैसे करें प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के लिए अप्लाई?

हालांकि, इसके लिए अभी तक सरकार ने कोई ऑफिशियल वेबसाइट, पोर्टल या किसी प्रक्रिया का अभी तक कोई ऐलान नहीं किया है। जल्द ही इसे लेकर पोर्टल जारी किया जा सकता है। लेकिन, इसका आवेदन सरकारी पोर्टल नैशनल पोर्टल फॉर रूफटॉप सोलर (National Portal for Rooftop Solar) पर किया जाएगा। आइये जानते हैं कैसे-

इस नई स्कीम के तहत अप्लाई करने के लिए आपको सरकार के ऑफिशियल पोर्टल पर जाना होगा और रजिस्ट्रेशन करना होगा।
रजिस्ट्रेशन करते ही आपका अपना अकाउंट क्रिएट हो जाएगा। उसपर जाकर लॉगिन करना है और जरूरी जानकारी जैसे इलेक्ट्रीसिटी कंज्यूमर नंबर, मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी मांगी जा सकती है, जिसे अपलोड कर आपको सब्मिट कर देना है।
इसके बाद आपको सरकार की तरफ से उन रजिस्टर्ड विक्रेता की लिस्ट मिल जाएगी, जो आपके इलाके में उपलब्ध हैं।
लिस्ट में विक्रेता को सिलेक्ट करने के बाद आपका आवेदन अप्रूवल के लिए DISCOM के पास पहुंच जाएगा।
जैसे ही DISCOM की तरफ से अप्रूवल मिल जाता है, आप सोलर प्लांट लगवा सकेंगे। जैसे ही सोलर प्लांट इंस्टाल हो जाता है, प्लांट की डिटेल आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर सब्मिट करनी है, और नेट मीटर के लिए अप्लाई करना है।
और अब अंतिम स्टेप। आपको पोर्टल के जरिये ही बैंक अकाउंट डिटेल और कैंसेल्ड चेक सब्मिट करना होगा। कुछ ही दिनों में सरकार की तरफ से मिलने वाला फायदा आप तक पहुंच जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: अच्छी खबर धामी सरकार साल में तीन गैस सिलिंडर देगी मुफ्त, सस्ती दरों पर मिलेगा नमक,इनको मिलेगा लाभ

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें