Uttarakhand:कुमाऊं कमिश्नर ने सरकारी दफ्तरों में मारा छापा, गायब मिले कर्मचारी, मचा हड़कंप

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी:कुमाऊँ कमिश्नर दीपक रावत अपने कार्यशैली के लिए हमेशा से अलग ही अंदाज में जाने जाते हैं.दीपक रावत हमेशा छापामारी कर सुर्खियों में बने रहते हैं.सोमवार को कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत उपजिलाधिकारी, सिटी मजिस्ट्रेट एवं जिला प्राधिकारी कार्यलय में छापेमारी की. कमिश्नर की छापेमारी से अधिकारियों और कर्मचारियों में हड़कंप मच गया. छापेमारी के दौरान कमिश्नर रावत ने कार्यलयों के उपस्थिति रजिस्टर चेक किए जहां कई कर्मचारी नदारत रहे. अपने कर्मचारियों को बचाने में अधिकारी अलग-अलग तर्क देते रहे लेकिन कमिश्नर दीपक रावत नाराजगी जाहिर करते हुए जरा हाजिर कर्मचारियों से जवाब मांगा है.


निरीक्षण के दौरान तीन कर्मचारी अनुपस्थित मिले साथ ही अवकाश के लिए आवेदन में भी कमी मिली उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कर्मचारियों को ऑफिस समय से पहुंचने और प्लान के तहत कार्य करने के निर्देश दिए.
आयुक्त दीपक रावत ने उपजिलाधिकारी कार्यालय में बनी पार्किंग व्यवस्था को भी परखा. परिसर में गंदगी मिलने पर उन्होंने गहरी नाराजगी व्यक्त की. आयुक्त रावत ने एसडीएम कार्यालय में आये फरियादियों की समस्याएं भी सुनी और उन्हें दूर किया. आयुक्त दीपक रावत एसडीएम कार्यालय में बैठे-बैठे कई फरियादों की समस्या भी सुन उनका मौके पर निस्तारण भी किया.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand Cabinet: धामी मंत्रिमंडल कैबिनेट बैठक में इन 12 प्रस्तावों को मिली मंजूरी

इस दौरान उन्होंने प्राधिकरण के कई फाइलों का भी निरीक्षण किया जहां पाया की फाइलों की काम लेट लतीफी हो रही है जहां फाइलों को तुरंत निस्तारण करने के भी आदेश दिए.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand Crime:पत्नी के चरित्र पर पति करता था शक,पत्नी को काट डाला दराती से,नौ साल पहले हुई थी शादी,

अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें