Uttarakhand: कुमाऊं में भारी बारिश कई जगहों पर बादल फटे, लोगों के घरों में घुसे मालवा, भारी नुकसान रास्ते हुए बंद-VIDEO

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी: पहाड़ों पर पिछले कई दिनों से जंगलों में आग लगी हुई थी ऐसे में अब पहाड़ों पर हुई भारी बारिश के चलते जहां पहाड़ों पर लगी आग धीरे-धीरे थम रही है तो वही अल्मोड़ा और बागेश्वर जिले के सोमेश्वर में बुधवार रात अचानक बादल फटने अफरा-तफरी मच गई। बादल फटने के कारण क़ई घरों में मलवा घुस गया तो क़ई मकानों में दरार आ गई। मलवे और पानी के कारण अल्मोड़ा- बागेश्वर जिले को जोड़ने वाला हाईवे भी बंद हो गया। घटना से ग्रामीण रात भर दहशत में रहे.

अल्मोड़ा के सोमेश्वर में बुधवार रात अचानक बादल फटने से अफरा-तफरी मच गई। बादल फटने के कारण क़ई घरों में मलवा घुस गया तो क़ई मकानों में दरार आ गई। मलवे और पानी के कारण अल्मोड़ा- बागेश्वर जिले को जोड़ने वाला हाईवे भी बंद हो गया। घटना से ग्रामीण रात भर दहशत में रहे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:गौलापार ट्रेंचिंग ग्राउंड के सामने खड़े सभी ट्रकों और बुग्गी को तत्काल हटाने के RTO के निर्देश, होगी जप्ती की कार्रवाई-देखे आदेश

करीब एक घण्टे तक बारिश ने अपना तांडव दिखाया जिसमें लोगों का काफी हद तक नुकसान हो गया। किसी के घर मलवे से भर गए तो किसी के घर मे दरार आने से नुकसान हुआ। लोगों का जरूरत का सामान भी मलवे और पानी से बर्बाद हो गया। बारिश रुकने के बाद ग्रामीण अपने घरों की तरफ लौटे। मलवे के कारण अल्मोड़ा- कौसानी हाईवे भी बंद हो गया, जिससे वाहनों की आवाजाही भी बंद रही।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand(बड़ी खबर) राज्य के सभी डिग्री कॉलेजों में एडमिशन लेने वाले छात्रोंके लिए खबर, आई बड़ी UPDATE

कई वाहन मलवे में भी फंसे रहे। इधर इस घटना से छेत्र की साईं और कोसी नदी भी उफान पर आ गई। बादल फटने की सूचना पर प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची। अधिकारियों का कहना है कि घटना से किसी तरह की जनहानि नहीं हुई। नुकसान का आंकलन किया जा रहा है।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें