हल्द्वानी में फिर अतिक्रमण हटाने की तैयारी तेज: जानें पूरा मामला

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी और उसके आसपास के क्षेत्र में कई जगहों पर अतिक्रमण कार्यों ने अपना कब्जा जमा रखा है वन विभाग बागजाला में कब्जे की दूसरी जमीन को भी खाली कराने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए सर्वे किया जा रहा है। कब्जेदारों को नोटिस भी दिया जाएगा। विभाग ने वहां चेतावनी बोर्ड भी लगा दिया है।बागजाला में अतिक्रमणकारियों ने बड़े पैमाने पर निर्माण कार्य किए हैं।

इसमें से आठ निर्माण कार्य को जंगलात की टीम ने शनिवार को ध्वस्त किया है। अधिकारियों के अनुसार सभी अतिक्रमण को विधिसम्मत तरीके से हटाने के लिए कोशिश चल रही है, इसके तहत सर्वे किया जा रहा है। इसमें सभी ब्याारा एकत्र किया जा रहा है कि किसके कब्जे में कितनी जमीन है। तराई पूर्वी वन प्रभाग के डीएफओ हिमांशु ने बताया कि जो भी अतिक्रमण कार्य है उनको चिन्हित किया जा रहा है और उनको नोटिस जारी कर कार्रवाई की जाएगी ।

यह भी पढ़ें 👉  कैंची धाम मंदिर: किस्मत बदलने वाले बाबा नीम करौली महाराज का अद्भुत है चमत्कार


उधर, बागजाला में जंगलात की कार्रवाई के विरोध में स्थानीय लोगों ने नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य से उनके आवास पर मुलाकात की है। लोगों का कहना था कि वनविभाग की उदासीनता के चलते 2008 में पट्टे नवीनीकृत नहीं हो सके हैं। अब वन विभाग की टीम ने आठ निर्माण को तोड़ दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: पूर्व पुलिस क्षेत्राधिकारी और पूर्व थानाध्यक्ष मुखानी पर केस दर्ज करने के आदेश-जाने मामला

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें