Nainital News: पत्नी और दो बेटियों को खाई में धक्का देकर की थी निर्मल हत्या, कोर्ट में सुनाया आजीवन कारावास

ख़बर शेयर करें

जिला एवं सत्र न्यायाधीश नैनीताल सुजाता सिंह की कोर्ट ने ढाई साल पहले भीमताल के देवनगर पट्टी सरना क्षेत्र में पत्नी और दो मासूम बेटियों को मौत के घाट उतारने के आरोपी पर हत्या का दोष सिद्ध होने के बाद आजीवन कारावास और 50 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई है

अभियोजन पक्ष के अनुसार 24 जनवरी 2019 को सरना भीमताल में मृतका विमला के पिता मोतीराम की ओर से जंगलियागांव निवासी चंद्रशेखर के खिलाफ केस दर्ज कराया गया। बताया कि उन्होंने अपनी बेटी विमला का विवाह 18 साल पूर्व चंद्रशेखर के साथ किया था,

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:40 सब इंस्पेक्टरो का स्थानांतरण,चौकी इंचार्ज और थाना प्रभारी भी शामिल

लेकिन शादी के बाद ही वह अपनी पत्नी विमला देवी के साथ मारपीट करता था यही नहीं बाद में उसने अपनी 16 वर्षीय बेटी उमा व 3 वर्षीय बेटी रेनू के साथ भी मारपीट करना शुरू कर दिया। आरोप लगाया कि 21 जनवरी 2019 को चंद्रशेखर पत्नी व दोनों बेटियों को देवनगर जंगल की ओर ले गया। उसने गंगनाथ धार से तीनों को गहरी खाई में धक्का दे दिया। जिसमें तीनों की मौत हो गई। यही नहीं आरोपी ने इससे पूर्व अपने पड़ोसी मोहन राम पर तेजाब भी फेंका था.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: बीजेपी ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, जानें- उत्तराखंड में किसे कहां से मिला टिकट,

गवाहों के बयान, अभियोजन पक्ष के तर्कों को सुनने व पत्रावली में उपलब्ध साक्ष्यों का अवलोकन करने बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुजाता सिंह ने पत्नी और दो बेटियों की मौत के लिए चंद्रशेखर को दोषी ठहराया और बुधवार को उसे आजीवन कारावास और 50 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई.

यह भी पढ़ें 👉  Nainital News:(गजब) बगड़ गांव की लापता युवती को उठा ले गया गुलदार! वन विभाग ढूंढती रही जंगल में युवती युवक के साथ होटल से बरामद,हुआ हंगामा

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें