Uttarakhand Holi:होली का रंग उत्तराखंड की लोकगायिका माया उपाध्याय के संग-देखे होली के नॉनस्टॉप-VIDEO

ख़बर शेयर करें

होली एक ऐसा त्‍योहार है, जो चेहरों पर रंगों के साथ मुस्कान ला देता है. रंगों का ये त्‍योहार आते ही बाजार भी रंगीन हो जाते हैं. लोगों में त्यौहार को लेकर उत्साह और उमंग की लहर दिखाई पड़ती है. भारत में यूं तो कई त्यौहार मनाएं जाते हैं, लेकिन होली एक ऐसा दिन होता है, जहां लड़ाई झगड़े के बाद लोग अपनी नाराजगी को भुलाकर गले मिलते हैं. कुमाऊंनी और गढ़वाली होली के भी अपने रंग हैं.

आप अभी को होली की शुभकामनाएं,”होली के रंग माया के संग” पहाड़ी होली गीत संग्रह इस होली झूमे नाचे और होली मानाये “जय उत्तराखंड”

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:वन विकास निगम लालकुआं में बड़ा घोटाला ऑडिट रिपोर्ट आई सामने ,दो और कर्मचारी निलंबित


कई सुपरहिट कुमाऊंनी गानों के लिए जानी-जाने वाली माया उपाध्याय के नॉन स्टाप गाने आपको इस होली जरूर सराबोर करेंगे.
पहाड़ में होली का खुमार होलाष्टक से शुरू हो जाता है. कुमाऊंनी परिवारों के आंगन में बैठकी होली (Holi) से इस पर्व की शुरुआत होती है. हर घर में महिलाओं का उल्लास, उमंग और पारंपरिक गीतों की मधुर ध्वनि मन को सुकून देती है. यही वजह है कि इस पर्व को उत्तराखंड के बाहर भी पसंद किया जा रहा है. आज आपको सुनाते हैं कुछ कुमाऊंनी और गढ़वाली होली के गीत जिसपर आप भी नाचने पर मजबूर हो जाएंगे.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand:दुराचारी 65 वर्षीय ताऊ को 20 साल की कठोर कारावास,नाबालिग भतीजी को बनाया था हवस का शिकार

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें