हल्द्वानी:चारदीवारी से आजादी के लिए 15 साल के किशोरी ने रचा षड्यंत्र, पुलिस रह गई दंग

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी: दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली राजकीय महिला कल्याण एवं पुनर्वास केंद्र के बाल संप्रेक्षण गृह में रह रही किशोरी के साथ दुष्कर्म का मामला फर्जी निकला है.नारी निकेतन में रह रही बालिका ने विभागीय अनुसेवक व होमगार्ड के विरुद्ध बाहर ले जाकर दुष्कर्म करने का शिकायत बाल संरक्षण विभाग के सामने की थी जिसके बाद बाल संरक्षण अधिकारी द्वारा दोनों महिला कर्मचारियों के खिलाफ हल्द्वानी कोतवाली में मामला दर्ज कराया था पूरे मामले में पुलिस और विभागीय बाल विकास विभाग द्वारा संयुक्त रूप से जांच की गई जहां पूरा फर्जी निकला है.


कोर्ट के निर्देश के बाद पूरा मामला बाल विकास अधिकारी के द्वारा दर्ज कराया गया था.
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पहलाद मीणा ने बताया कि पुलिस और विभाग की जांच में सामने आया कि पूरा प्रकरण फर्जी है और बालिका द्वारा षडयंत्रज रचकर कर संप्रेक्षण गृह से बाहर निकालने की योजना थी. पूरे मामले में पुलिस ने जांच की फाइनल रिपोर्ट कोर्ट में पेश किया है जहां केस को अब बंद कर दिया गया है.
गौर है कि राजकीय महिला कल्याण एवं पुनर्वास केंद्र हल्द्वानी के बाल संप्रेक्षण गृह में रह रही किशोरी के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आने के बाद कई तरह के सवाल खड़े होने लगे थे कई लोग इस इस प्रकरण को राजनीतिक दृष्टि से जोड़कर देख रहे थे ऐसे में पुलिस के जांच पड़ताल में पूरा मामला फर्जी आया है

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:STH में फीस गबन का आया मामला, महिला कर्मी के घर में मिली रसीद बुक,7.5 लाख की हुई रिकवरी

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा का कहना है कि बालिका नाबालिग है ऐसे में उसके परिजनों को सपुर्द किया गया है.

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें