RATION CARD: इन लोगों को नहीं मिलेगा गेंहू, चावल का लाभ, काटे जाएंगे राशन कार्ड, जानें

ख़बर शेयर करें

राशन कार्डधारकों के लिए केंद्र व राज्य सरकारें तमाम धाकड़ स्कीम चलाई जा रही हैं, जिसका लोगों को बड़े स्तर पर फायदा मिल रहा है। सरकार अब ऐसे राशन कार्डधारकों की भी जांच कर रही है जो अपात्र तरीके से गेंहू, चावल और चीनी का फायदा उठा रहे हैं।

इनमें से तमाम परिवार ऐसे हैं, जिनके बुजुर्ग सदस्यों की मौत जाने या फिर परिवार की शादी होने के बाद राशन कार्ड से नहीं हटाया या है। इनके हिस्से का राशन लेने का काम किया जा रहा है। इससे ऐसे तमाम परिवारों को लाभ नहीं मिल पा रहा है, जिन्हें राशन की जरूरत है।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: अच्छी खबर धामी सरकार साल में तीन गैस सिलिंडर देगी मुफ्त, सस्ती दरों पर मिलेगा नमक,इनको मिलेगा लाभ

बड़ी संख्या में लोगों को मिल रहा राशन का फायदा

केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है, जिसके तहत हर किसी को बंपर फायदा मिल रहा है। करीब 80 करोड़ लोग इस योजना के तहत फ्री राशन का फायदा मिल रहा है। सरकार इससे दिसंबर महीने तक फ्री राशन का लाभ देगी। माना जा रहा है कि इस योजना से मिलने वाले लाभ को आगे भी बढ़ाया जा सकता है। लोकसभा चुनाव को देखते हुए यह बड़ा ऐलान होने की उम्मीद है।

यह भी पढ़ें 👉  जमरानी बांध: 48 साल पहले हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री के सी पंत ने किया था शिलान्यास,मोदी सरकार में 3808 करोड़ से शुरू होने जा रहा है काम


अगर आप गरीब कल्याण योजना के तहत है तो आपकी राशन कार्ड को निरस्त किया जाएगा. सरकार ने सभी जिला पूर्ति अधिकारियों को निर्देशित किया है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के तहत अपात्र लोगों के राशन कार्ड को निरस्त करें।

ये हैं पात्र

-ऐसा परिवार, जिसका संचालन मुखिया के तौर पर विधवा महिला या अकेली महिला करती हो तथा परिवार की कुल मासिक आय 15,000 रुपये से कम हो।

यह भी पढ़ें 👉  जमरानी बांध: 48 साल पहले हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री के सी पंत ने किया था शिलान्यास,मोदी सरकार में 3808 करोड़ से शुरू होने जा रहा है काम

-ऐसा परिवार, जिसका संचालन मुखिया के तौर पर असाध्य रोगों से पीड़ित या विकलांगता / 60 से अधिक आयु वाला ब् करता हो और परिवार की कुल मासिक आय 15,000 रुपये से कम हो।

-ऐसा परिवार, जिसके पास राजस्व अभिलेखों में दर्ज सिंचित भूमि का कुल क्षेत्रफल दो हेक्टेयर से कम हो या एक हेक्टेयर सिंचित अथवा 2 हेक्टेयर असिंचित से कम हो या कुल क्षेत्रफल 4 हेक्टेयर असिंचित भूमि से कम हो।उत्तराखण्ड की स से निवासरत परिवार।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें