हल्द्वानी राजकीय मेडिकल कॉलेज में रैगिंग का मामला आया सामने, 44 छात्रों के खिलाफ कार्रवाई

ख़बर शेयर करें


हल्द्वानी का राजकीय मेडिकल कॉलेज एक बार फिर से चर्चाओं में है । इस बार फिर से जूनियर छात्र के साथ मोबाइल पर रैगिंग करने का मामला सामने आया है। पूरे मामले में कॉलेज प्रशासन है एक छात्र के खिलाफ ₹50000 जुर्माना और हॉस्टल निष्कासन की कार्रवाई की है तो वही 43 छात्रों के खिलाफ 25-25- हजार जुर्माने की कार्रवाई की है।


एक महीने पहले मेडिकल कॉलेज में प्रवेश समाप्त हुआ है एमबीबीएस द्वितीय वर्ष के छात्रों की ओर से प्रथम वर्ष के छात्र को वीडियोकाल के जरिये गालीगलौज करने व मुर्गा बनाने का आरोप है। मामला नौ दिसंबर की रात का है जहां 2021 बैच के एक सीनियर ने जूनियर को फोन कर व्हाइट कोट सेरेमनी के बारे में जानकारी देनी की बात कह कर अन्य छात्रों के साथ अपने कमरे में बुलाया जहां इसके बाद सीनियर छात्रों ने वीडियो काल के जरिए अपना चेहरा नहीं दिखाया और रैकिंग कर उनके साथ गाली गलौज और मुर्गा बनवाया ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:मौत के बाद दुष्कर्म पीड़िता नाबालिग को मिला इंसाफ,आरोपी को मिला 20 साल की कारावास

जिसकी रात में ही एक जूनियर छात्र ने कालेज के प्राचार्य प्रो. अरुण जोशी को दी जहां प्राचार्य और वार्डन टीम के साथ हास्टल पहुंच गए। पहले जूनियर छात्रों से जानकारी ली और फिर सीनियर छात्रों जानकारी ली जिसके बाद पूरे मामले की कॉलेज प्रशासन है एंटी रैगिंग कमेटी को दी जहां एंटी रैगिंग कमेटी की बैठक बुला ली गई

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News:तेंदुआ नहीं आसिफ जलाल उठा ले गया था लड़की,अब गया जेल, आशिक आसिफ ने दी सफाई

जिसमें सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह, एसपी सिटी हरबंश सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता कुसुम दिगारी आदि शामिल रहे जहां कमेटी ने सभी छात्रों और पीड़ित छात्र के अभिभावक के भी बयान लिए जहां सीनियर छात्रों ने घटना को स्वीकार किया।

कमेटी ने पूरे मामले में निर्णय लेते हुए मोबाइल प्रयोग करने वाले एक सीनियर छात्र पर 50 हजार रुपये जुर्माना लगाने के साथ उसे तीन महीने के लिए हास्टल से निष्कासित करने का आदेश दिया है इसके अलावा 43 सीनियर छात्रों को 25-25 हजार रुपये जुर्माना भरना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी में फिर अतिक्रमण हटाने की तैयारी तेज: जानें पूरा मामला

प्राचार्य प्रो. जोशी ने बताया कि कॉलेज में किसी भी तरह की अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी भविष्य में अगर इस तरह की कोई शिकायत मिलेगी तो उक्त छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें