उत्तराखंड को फिल्म शूटिंग डेस्टिनेशन बनाने की तैयारी, आप भी दीजिए अपना सुझाव, पढ़ें नई नीति

ख़बर शेयर करें

देहरादून: उत्तराखंड प्राकृतिक सुंदरता से भरा प्रदेश है ऐसे में यहां पर फिल्म निर्माण की अपार संभावना है इसको देखते हुए अब सरकार उत्तराखंड को फिल्म शूटिंग डेस्टिनेशन बनाने की तैयारी, शुरू कर दी है इसके लिए सरकार ने लोगों से सुझाव भी मांगे हैं।राज्य सरकार नई फिल्म नीति 2022 में सिंगल विंडो सिस्टम के माध्यम से कई प्रोत्साहन और वित्तीय सहायता देने जा रही है।

इस नई नीति के लिए सरकार ने कई लोगो से सुझाव मांगे और प्रस्तावित ड्राफ्ट पर सिंगल विंडो सिस्टम को लागू किये जाने पर मुहर लगाई गई।
उत्तराखंड फिल्म नीति-2022 का ड्राफ्ट लोगों के सुझाव के लिए विभागीय वेबसाइट http://www.uttarainformation.gov.in पर प्रकाशित किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:फैंसी नंबर की ऐसी दीवानगी,0005 नंबर के लिए खर्च किए चार लाख से अधिक, इतने में तो आ जाती दूसरी कार

15 सितंबर तक कोई भी व्यक्ति नीति पर अपने सुझाव दे सकते हैं, जिसके बाद नीति को अंतिम रूप दिया जाएगा।
नीति शुरू करने के बाद सरकार ने आवेदन प्राप्त करने की तारीख से एक सप्ताह के भीतर एकल मंच (सिंगल विंडो) से अनुमति देने का निर्णय लिया है।
इसके अलावा राज्य की गढ़वाली, कुमाऊंनी, जौनसारी बोलियों में बनने वाली फिल्मों पर 40 प्रतिशत अनुदान या अधिकतम दो करोड़ का अनुदान दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand:पति के प्रेमिका से परेशान पत्नी ने ननद-देवरानी के साथ मिल कर दिया कांड

नीति के प्रस्तावित ड्राफ्ट

पर्वतीय क्षेत्रों में सिनेमाघरों व स्टूडियो में उपकरण खरीदने पर 25 प्रतिशत या अधिकतम 25 लाख का अनुदान।

पर्वतीय क्षेत्रों में मोबाइल थियेटर वाहन खरीदने पर 15 लाख का अनुदान।

स्थानीय बोली में बनने वाली फिल्मों की शूटिंग के दौरान किए गए व्यय पर 40 प्रतिशत अनुदान।

  • स्थानीय व हिंदी में सर्वोत्तम फिल्म को 10 लाख का पुरस्कार
  • शूटिंग के दौरान फिल्म यूनिटों को जीएमवीएन व केएमवीएन के रेस्ट हाउस में ठहरने पर 50 प्रतिशत छूट दी जाएगी।
  • फिल्म प्रशिक्षण संस्थान के लिए 25 प्रतिशत या अधिकतम 50 लाख का अनुदान।
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:फैंसी नंबर की ऐसी दीवानगी,0005 नंबर के लिए खर्च किए चार लाख से अधिक, इतने में तो आ जाती दूसरी कार

उत्तराखंड के नैसर्गिक सौंदर्य व लोक संस्कृति को विश्व पटल पर लाने के उद्देश्य से देश-विदेश से फिल्म निर्माताओं व निदेशक को शूटिंग के लिए नई नीति में प्रोत्साहन व वित्तीय लाभ देने का प्रावधान किया जाएगा। ऐसे में उत्तराखंड में फिल्म शूटिंग डेस्टिनेशन बन जाने के बाद यहां के स्थानीय लोगों को जहां रोजगार मिलेगा तो वही अपने कला को भी निकालने का मौका मिल सकता है.

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें