Uttarakhand News:आर्मी में नौकरी के नाम पर थमा दिया फर्जी नियुक्ति पत्र ,पूर्व फौजी ने कई लोगो से हड़प लिए 65 लाख

ख़बर शेयर करें

पुलिस ने आर्मी के नाम पर फर्जी नियुक्ति पत्र देने वाले पूर्व आर्मी के जवान को गिरफ्तार किया है. मामला पिथौरागढ़ का है पुलिस के जांच पड़ताल में सामने आया है कि पूर्व फौजी द्वारा करीब 65 लाख रुपए की अलग-अलग लोगों से धोखाधड़ी कर ठगी की गई है.
पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ लोकेश्वर सिंह ने बताया कि हिमांशु कुमार निवासी ग्राम ग्वेता, ख्वांतड़ी थाना कनालीछीना जिला पिथौरागढ़ द्वारा पुलिस कार्यालय पिथौरागढ़ में तहरीर दी गई थी कि, देवेन्द्र कुमार पुत्र नैन राम, निवासी ग्राम बजानी व पोस्ट कालिका तहसील/ थाना धारचूला जो कुमाऊँ रेजीमेन्ट में नियुक्त था तथा वर्तमान में सेवानिवृत्त हो चुका है.

आरोपी द्वारा द्वारा प्रलोभन देते हुए फर्जी नियुक्ति प्रमाण पत्र देकर उसके साथ 5,50,000/- (पाँच लाख पचास हजार) रुपयों की धोखाधड़ी की गई हैं.वादी के तहरीर पर पूरे मामले की पुलिस द्वारा जांच की गई तो मामला धोखाधड़ी के सामने आया आरोपी देवेन्द्र कुमार के विरुद्ध थाना कनालीछीना में धारा 420/504/506 के तहत मामला मामला दर्ज कर आरोपी को पिथौरागढ़ से गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के जांच में सामने आया है कि अभियुक्त देवेन्द्र कुमार द्वारा जनपद के अन्य लोगों से भी नौकरी लगाने के नाम पर लाखों रुपयों की धोखाधड़ी की गई है जिस सम्बन्ध में अभियुक्त के विरुद्ध थाना कनालीछीना सहित कोतवाली पिथौरागढ़, थाना जाजरदेवल एवं थाना बलुवाकोट में भी अभियोग पंजीकृत किया गया है.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand News: यूट्यूबर को टेडी बियर का मास्क लगाकर रील बनाना बड़ा भारी,पंहुचा हवालात,जाने पुरा मामला


आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की गई जिस पर पुलिस टीम द्वारा साइबर सैल व फाइनेंशियल फ्रॉड यूनिट की मदद से अभियुक्त देवेन्द्र कुमार को धारचूला से गिरफ्तार किया गया.
बताया जा रहा है कि आरोपी द्वारा अपने साथ वालों को भरोसे में लेकर उनके रिश्तेदारों को नौकरी दिलाने का झांसा देकर आर्मी की मुहर लगी हुई फर्जी नियुक्ति प्रमाण पत्र देकर लाखों रुपयों की ठगी करता था. जब नियुक्ति प्रमाण पत्र लेकर युवक ड्यूटी के लिए जॉइनिंग के लिए जाता था तो मामले का खुलासा होने पर परिवार वाले उससे पैसे वापस मांगते थे लेकिन पैसे देने के बजाय उल्टा उनको धमकाने का काम करता था. पूरे मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है जहां आरोपी को जेल भेजने की करवाई गई है.

यह भी पढ़ें 👉  जमरानी बांध: 48 साल पहले हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री के सी पंत ने किया था शिलान्यास,मोदी सरकार में 3808 करोड़ से शुरू होने जा रहा है काम

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें