Uttarakhand:सरकारी खर्च पर ताइवान गए डीजी समेत 11 चिकित्सकों को नोटिस, पढ़िए मामला

ख़बर शेयर करें

देहरादून:सरकारी खर्च पर एक्जीक्यूटिव लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए ताइवान गए स्वास्थ्य महानिदेशक समेत 11 चिकित्सकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। ताइवान से लौटाने के छह माह बाद भी ट्रेनिंग प्रोग्राम के अनुभवों को लेकर शासन को कोई रिपोर्ट तक नहीं दी। लाखों रुपये खर्च उत्तराखंड को ट्रेनिंग प्रोग्राम का लाभ नहीं मिल पाया है।

इसे गंभीरता से लेते हुए शासन ने ताइवान दौरा करने वाले अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है। नोटिस में कहा गया कि शासन को रिपोर्ट न देने पर प्रशिक्षण कार्यक्रम का कोई लाभ उत्तराखंड को नहीं मिला है। विदेश दौरा सरकारी धन के दुरुपयोग और सैर-सपाटा साबित हो रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:फैंसी नंबर की ऐसी दीवानगी,0005 नंबर के लिए खर्च किए चार लाख से अधिक, इतने में तो आ जाती दूसरी कार

सरकारी खर्च पर एक्जीक्यूटिव लीडरशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए ताइवान गए स्वास्थ्य महानिदेशक समेत 11 चिकित्सकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। ताइवान से लौटाने के छह माह बाद भी ट्रेनिंग प्रोग्राम के अनुभवों को लेकर शासन को कोई रिपोर्ट तक नहीं दी। लाखों रुपये खर्च उत्तराखंड को ट्रेनिंग प्रोग्राम का लाभ नहीं मिल पाया है।


स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने प्रशिक्षण कार्यक्रम के नाम पर विदेश का दौरा तो कर लिया, लेकिन 6 महीने बीत जाने के बाद भी इस दौरे के दौरान उन्हें क्या अनुभव हुए इसको लेकर रिपोर्ट शासन में प्रेषित नहीं की गयी. खास बात यह है कि विदेश जाने वाले इन अफसरों में स्वास्थ्य महानिदेशक से लेकर विभाग के कई बड़े अधिकारी शामिल थे.

यह भी पढ़ें 👉  Uttarakhand:पति के प्रेमिका से परेशान पत्नी ने ननद-देवरानी के साथ मिल कर दिया कांड

स्वास्थ्य विभाग के ये अफसर गए थे विदेश: दरअसल 5 फरवरी 2023 से लेकर 11 फरवरी 2023 तक ताइवान के नेशनल ताइवान यूनिवर्सिटी में एग्जीक्यूटिव लीडरशिप प्रोग्राम फॉर मिडल एंड सीनियर लेवल ऑफिशल्स प्रशिक्षण रखा गया था. जिसके लिए उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग के 11 अधिकारियों को ताइवान जाने के लिए अनुमति दी गई थी.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:फैंसी नंबर की ऐसी दीवानगी,0005 नंबर के लिए खर्च किए चार लाख से अधिक, इतने में तो आ जाती दूसरी कार

इन अधिकारियों में स्वास्थ्य विभाग की महानिदेशक विनीता शाह, एनएचएम डायरेक्टर सरोज नैथानी, एसीएमओ नैनीताल तरुण कुमार टम्टा, सीएमओ चमोली राजीव कुमार शर्मा, सीएमओ उधम सिंह नगर सुनीता रतूड़ी, हरिद्वार डीटीओ राजेश कुमार सिंह, असिस्टेंट डायरेक्टर नरेश नपलच्याल, तुहीन कुमार, डीटीओ मनोज कुमार वर्मा, एसीएमओ अल्मोड़ा दीपांकर डेनियल्स और पौड़ी एसीएमओ रमेश कुंवर को विदेश में प्रशिक्षण के लिए अनुमति दी गई थी.

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें