कुमाऊं मंडल में इस जगह पर अगले महीने अग्निवीरों की होने जा रही है बंपर भर्ती– युवा हो जाएं तैयार

ख़बर शेयर करें

कुमाऊं मंडल में इस जगह पर अगले महीने अग्नि वीरों की होने जा रही है बंपर भर्ती– युवा हो जाएं तैयार

अल्मोड़ा : भारतीय सेना में नौकरी करने वाले युवाओं के लिए अच्छी खबर है अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीरों की भर्ती शुरू होगी। अल्मोड़ा जनपद के रानीखेत में अगले महीने अग्नि हीरो की बंपर भर्ती होने जा रही है जिसकी तैयारी को लेकर आर्मी और प्रशासन के अधिकारियों ने बैठक की। फिलहाल, भर्ती को लेकर कोई तिथि घोषित नहीं हुई है।जिला कार्यालय और सेना के अधिकारियों के बीच में हुई बैठक में कहा कि भर्ती के दौरान प्रशासन सहयोग करे। कहा कि भर्ती रैली में काफी संख्या में अभ्यर्थी पहुंचते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  Haldwani News:कार ने स्कूटी में मारी टक्कर ,कैंची धाम ड्यूटी जा रहे दो पुलिसकर्मी गंभीर घायल

Almora जिले में अगले महीने Ranikhet में Aganiveer bharti की जाएगी। इसको लेकर जिला कार्यालय में एक बैठक भी हुई और उसके बाद डायरेक्टर रिक्रूटमेंट आदित्य मिश्रा के द्वारा भर्ती के दौरान शासन से सहयोग करने की भी मांग की गई।

उनके द्वारा मांग की गई कि जो भी अभ्यर्थी आते हैं उनके आईडेंटिटी और अभिलेख सत्यापन हेतु प्रशासन के द्वारा उनकी मदद की जाए। अगर प्रशासन के द्वारा मदद की गई तो भर्ती में किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी।

इस पर जिला प्रशासन के द्वारा भी उत्तराखंड अग्नीपथ भर्ती में युवाओं की हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया गया। जिला प्रशासन के द्वारा बताया गया की युवाओं के मदद के लिए आधार स्टॉल लगाए जाएंगे और अन्य व्यवस्थाओं के लिए भी अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  Haldwani News:कार ने स्कूटी में मारी टक्कर ,कैंची धाम ड्यूटी जा रहे दो पुलिसकर्मी गंभीर घायल

जाने क्या है अग्निवीर योजना

अग्निपथ स्कीम के तहत 17.5 से लेकर 21 वर्ष के युवाओं की तीनों सेनाओं में भर्ती की जाएगी लेकिन कोरोना के कारण अग्निवीरों की भर्ती के पहले साल उम्र सीमा में दो साल की छूट दी गई है और 23 साल तक के युवा आवेदन कर सकते हैं। अग्निवीर चार साल बाद जब सेना से बाहर आएगा तो उसे सेवा निधि के रूप में 11.71 लाख रुपये मिलेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  Haldwani News:कार ने स्कूटी में मारी टक्कर ,कैंची धाम ड्यूटी जा रहे दो पुलिसकर्मी गंभीर घायल

चार साल बाद हर अग्निवीर बैच के 25 प्रतिशत लोगों को ही सेना में स्थायी नियुक्ति मिलेगी और इसके लिए उन्हें सेना की मानक प्रक्रियाओं की कसौटी पर खरा उतरना होगा। सेवानिवृत्त अग्निवीरों को केंद्रीय अर्धसैनिक बलों और रक्षा से संबंधित सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में वरीयता दी जाएगी। कई भाजपा शासित राज्यों ने भी घोषणा की है कि ‘अग्निवीरों’ को राज्य पुलिस बलों में शामिल करने में प्राथमिकता दी जाएगी।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें