Uttarakhand News:ग्राहकों की तरह आए,फिर इत्मिनान से गन प्वाइंट पर लूटे करोड़ के जेवरात, ऐसे हुए फरार-देखें-CCTV VIDEO

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में एक बार फिर से अपराधियों ने पुलिस को चुनौती दी है राजधानी देहरादून में बदमाशों ने दस मिनट के अंदर करोड़ की डकैती को अंजाम दिया। घटना के बाद से पूरे शहर में हड़कंप मचा हुआ है। शोरूम में कीमती आभूषणों को सजाने की तैयारी चल रही थी।

तभी पांच लोग ग्राहक बनकर अंदर घुसे और गन प्वाइंट पर कर्मचारियों को बंधक बना लिया। बदमाशों ने कर्मचारियों को पेंट्री में बंद किया। सभी के हाथ प्लास्टिक की रस्सी से बांध दिए। बदमाश यहां से करोड़ों रुपए के हीरे और सोने के जेवरात लूट कर ले गए।राजपुर रोड स्थित के ज्वैलरी शोरूम में हुई डकैती की घटना के खुलासे को लेकर देहरादून वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने अलग-अलग टीमों का गठन कर दिया है.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: काठगोदाम में बीच सड़क में ट्रक में लगी भीषण आग, ट्रक जलकर हुआ खाक-देखे-VIDEO

क्षेत्राधिकारी स्तर के अधिकारियों के नेतृत्व में सर्विलांस, सीसीटीवी और घटना के संबंध में जानकारी और संदिग्धों से पूछताछ हेतु अलग-अलग 4 टीमों का गठन किया गया है.टीमों द्वार जांच करने पर पता चला है कि ओडिशा, महाराष्ट्र, पश्चिमी बंगाल और दिल्ली में भी ज्वैलरी शोरूम में इस प्रकार की डकैती की घटनाएं घट चुकी हैं. जांच में पुलिस के हाथ लगे महत्वपूर्ण सुराग से पता चला है कि घटना में शामिल डकैतों का संबंध बिहार के किसी गैंग से है।

यह भी पढ़ें 👉  गर्मी ने बनाया रिकॉर्ड: हल्द्वानी,देहरादून में 14 साल बाद टूटा तापमान का रिकॉर्ड बाजारों में सन्नाटा; देखिए कितना पहुंचा तापमान

रिलायंस ज्वैलरी का यह शोरूम राजपुर रोड पर ठीक सेंट जोसेफ स्कूल के सामने है। इसके बगल से ही होटल इंद्रलोक को जाने वाली व्यस्त गली है। बृहस्पतिवार को सुबह करीब 10.20 बजे कर्मचारियों ने शोरूम खोला था। कर्मचारी वहां काउंटर पर जेवरात सजा रहे थे। कुछ देर बाद करीब 10.25 बजे चार युवक अंदर घुसे। कर्मचारियों को लगा कि ये ग्राहक होंगे और उन्होंने हाथ जोड़कर उन्हें नमस्कार किया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: लालकुआं इंडियन ऑयल डिपो से लगे झाड़ियां में लगी भीषण आग बड़ा हादसा होने से टला-देखे-VIDEO

गार्ड हयात सिंह गेट के पास काउंटर पर रजिस्टर में कुछ काम कर रहा था। इसी बीच एक युवक ने हयात सिंह की कनपटी से पिस्तौल सटा दी और दूसरे ने कर्मचारियों को पिस्तौल दिखाकर चुप रहने को कहा।

इसके बाद दो बदमाशों ने तीन महिला कर्मचारियों को छोड़कर सभी के प्लास्टिक केबल टाइ (बांधने के लिए लॉक वाली बेल्ट नुमा तार) से पीछे तरफ हाथ बांध दिए। सभी को रिशेप्सन काउंटर के पास बैठा दिया।

Advertisements
अपने मोबाइल पर प्रगति टीवी से जुड़ने के लिए नीचे दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

👉 अपने क्षेत्र की खबरों के लिए 8266010911 व्हाट्सएप नंबर को अपने ग्रुप में जोड़ें